मुख्यमन्त्री धामी का केंद्र से अनुरोध, उत्तराखंड से शुरू हो अयोध्या तक के लिए सीधी उड़ान

bikram

राम मंदिर का निर्माण पूरा होने पर पूरा देश खुश है। इसमें उत्तराखंड भी 22 जनवरी को होने वाले राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने की तैयारी कर रहा है। अयोध्या पहुंचने के लिए परिवहन के हर साधन को या तो उन्नत किया जा रहा है या नए साधन जोड़े जा रहे हैं।

वंदे भारत का भी बढ़ाया जा सकता है रुट

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से देहरादून से अयोध्या के लिए हवाई सेवा प्रारम्भ करने का अनुरोध किया है। इस संबंध में केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री को भेजे गए पत्र में मुख्यमंत्री ने कहा है कि जल्द ही श्री राम जन्मभूमि अयोध्या में भगवान श्री रामलला की मूर्ति स्थापित की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड को देवभूमि भी कहा जाता है, यह देश भर के तीर्थयात्रियों के लिए तीर्थस्थल है। इस कारण देवभूमि के श्रद्धालुओं और देशभर के तीर्थयात्रियों के लिए देहरादून से अयोध्या श्री राम जन्मभूमि तक कोई सीधी हवाई सेवा उपलब्ध नहीं है।

जिसके कारण पर्यटकों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. सीधी हवाई कनेक्टिविटी के बिना देश भर से आने वाले यात्रियों और देवभूमि उत्तराखंड आने वाले राज्य के श्रद्धालुओं के लिए यह बेहद मुश्किल लगता है। इन कठिनाइयों के समाधान के लिए देहरादून से अयोध्या तक प्रतिदिन हवाई सेवा संचालित किया जाना नितांत आवश्यक है, इससे देश एवं प्रदेश के यात्रियों को सुविधा मिलेगी।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने 22 जनवरी को श्री राम जन्मभूमि मंदिर के भव्य अभिषेक समारोह से पहले रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से वंदे भारत रेल सेवा का मार्ग देहरादून-लखनऊ से अयोध्या तक विस्तारित करने का भी अनुरोध किया है।

श्री अयोध्या धाम तक वंदे भारत रेल सेवा के विस्तार से उत्तराखंड के निवासियों के लिए पवित्र शहर की यात्रा करना आसान हो जाएगा। वहीं देवभूमि आने वाले श्रद्धालुओं के लिए भी इसका अतिरिक्त लाभ होगा।

Leave a comment