उत्तराखंड के स्कूलों से दूर होगी शिक्षकों की कमी, अटल उत्कृष्ट विद्यालय में जल्द होगी LT, प्रवक्ता पद पर भर्ती

bikram

उत्तराखंड के शिक्षा क्षेत्र के लिए इस साल एक अच्छी खबर आ रही है। यह खबर प्रदेश के सभी अटल उत्कृष्ट विद्यालयों से जुड़ी है। इन स्कूलों में पिछले तीन साल से चली आ रही शिक्षकों की कमी को दूर करने के लिए राज्य की धामी सरकार ने एक समाधान निकाला है। अब स्क्रीनिंग परीक्षा के माध्यम से चयनित 1,478 शिक्षकों में से इन स्कूलों में 827 रिक्त शिक्षकों के पद भरे जाएंगे।

अभी तक L.T. प्रवक्ता के 827 पद है ख़ाली

प्रभारी माध्यमिक शिक्षा निदेशक महावीर सिंह बिष्ट के मुताबिक प्रवक्ता के पदों के लिए माध्यमिक शिक्षा निदेशालय में दो जनवरी से काउंसिलिंग शुरू हो गई है, जो दो दिन तक चलेगी, जबकि सहायक अध्यापक एलटी के पदों के लिए काउंसिलिंग होगी। गढ़वाल और कुमाऊं मंडल के अतिरिक्त शिक्षा अधिकारियों के पदों पर भर्ती शुरू हो गई है। आज यानी 03 जनवरी को निदेशालय में काउंसलिंग चल रही है।

आपको बता दें कि राज्य के सभी सरकारी स्वामित्व वाले स्कूलों में से प्रत्येक ब्लॉक में दो स्कूलों को वर्ष 2020 में अटल उत्कृष्ट विद्यालय के रूप में संचालित करने की मंजूरी दी गई थी। वर्ष 2020 में ही सरकार में कार्यरत शिक्षकों का चयन करने का प्रावधान किया गया था। स्क्रीनिंग परीक्षा के माध्यम से माध्यमिक विद्यालय।

इस प्रक्रिया की शुरुआत में स्क्रीनिंग परीक्षा के आधार पर शिक्षकों की भर्ती शुरू की गई। लेकिन स्क्रीनिंग परीक्षा के बावजूद 827 शिक्षकों के पद लंबे समय से खाली बताए जा रहे हैं। इन पर संज्ञान लेते हुए अब इन पदों पर शिक्षकों की तैनाती की जाएगी। प्रभारी शिक्षा निदेशक महावीर सिंह बिष्ट से मिली जानकारी के अनुसार परीक्षा के माध्यम से 1478 शिक्षक स्क्रीनिंग परीक्षा में उत्तीर्ण हुए हैं, जिनमें 654 व्याख्याता हैं।

आपको बता दें कि गढ़वाल मंडल में 393 और कुमाऊं मंडल में 431 सहायक अध्यापकों ने एलटी परीक्षा उत्तीर्ण की है। स्कूलों में प्रवक्ता के 543 पद, गढ़वाल मंडल में सहायक अध्यापक एलटी के 151 पद और कुमाऊं मंडल में सहायक अध्यापक एलटी के 133 पद रिक्त हैं। अब इन रिक्त पदों के लिए योग्य शिक्षकों की काउंसलिंग की जानी है, जिसके बाद रिक्त पदों पर शिक्षकों की तैनाती की जाएगी।

Leave a comment