नए साल पर नैनीताल में खुशखबरी, कैंची धाम, हनुमान गढ़ी हर पर्यटक स्थल पर करिए हेलीकाप्टर से यात्रा

bikram

नैनीताल की जिलाधिकारी वंदना सिंह ने नए साल पर जनता और पर्यटकों को एक खुशखबरी दी है. उन्होंने नैनीताल जिले में हेलीपैड परियोजनाओं की प्रगति की समीक्षा की। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उन्होंने उप जिलाधिकारियों के साथ ही वित्त एवं सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि हेलीपैड के लिए उन स्थानों का चयन करें जहां पर्यटन स्थल हों, इससे स्थानीय लोगों की आर्थिकी मजबूत होगी और पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा।

सरकार ने दिए आदेश भूमि निरीक्षण के आदेश जल्द बने हैलीपैड

उन्होंने कहा कि हेलीपोर्ट एवं हेलीपैड का मास्टर प्लान बनाते समय भविष्य की संभावनाओं एवं आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर योजना बनायी जाय। उन्होंने कहा कि हेलीपैड योजना केंद्र सरकार की योजना है और इस योजना की समय सीमा केंद्र सरकार द्वारा निर्धारित की गयी है. जहां तक ​​संभव हो हेलीपैड के लिए वन भूमि का चयन नहीं किया जाना चाहिए, जिससे वन भूमि हस्तांतरण एवं आपत्तियों के निस्तारण में काफी समय खर्च होता है।

योजना समय सीमा के अंदर पूरी नहीं हो पाती है. उप जिलाधिकारी प्रमोद कुमार ने बताया कि नौकुचियाताल और मुक्तेश्वर में हेलीपैड के लिए भूमि का चयन कर लिया गया है। जिलाधिकारी ने तत्काल स्टीमेट बनवाकर कार्य शुरू कराने के निर्देश दिये।

उन्होंने कार्यकारी वित्त विभाग, सिंचाई तथा नारायण नगर, सादिन्याताल, हनुमानगढ़ी, कैंचीधाम तथा स्नो व्यू के संबंधित उप जिलाधिकारियों को संयुक्त रूप से स्थलीय सर्वेक्षण कर शीघ्र प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिये।

कैंची धाम मंदिर में हेलीपैड के निर्माण के संबंध में जिलाधिकारी ने कहा कि यह जिले के प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में विकसित हो रहा है, उन्होंने मंदिर के चारों ओर हेलीपैड के निर्माण के लिए उप जिलाधिकारी एवं अधिशाषी अभियंता पीडब्लूडी को कार्य कराने को कहा, स्थल निरीक्षण कर प्रस्ताव प्रस्तुत करें। उन्होंने कहा कि कैंची धाम में हेलीपैड बनने से पर्यटकों को आवागमन में आसानी होगी तथा ट्रैफिक जाम से भी राहत मिलेगी तथा क्षेत्र का आर्थिक विकास भी होगा।

Leave a comment