पिता ने लोक संगीत तो बेटे ने फुटबॉल में करा उत्तराखंड का नाम रोशन, नॉर्थ जोन में चुने गए ललित जोशी के पुत्र सार्थक

bikram

उत्तराखंड के प्रतिभावान दुनिया को दिखा रहे हैं कि वे किसी भी क्षेत्र में किसी से कम नहीं हैं। कुमाऊं के कई खिलाड़ियों के बाद एक बार फिर युवाओं ने कुमाऊं से एक अच्छी खबर दी है। सार्थक जोशी जो कि उत्तराखंड के रहने वाले हैं। नॉर्थ जोन इंडिया खेलो फुटबॉल फाइनल राउंड के लिए चुना गया है। वह अंडर-17 टीम का हिस्सा बन गए हैं. सार्थक जोशी के पिता का नाम ललित मोहन जोशी है, वह उत्तराखंड के प्रसिद्ध लोक गायक हैं।

नॉर्थ जोन इंडिया खेलो फुटबॉल फाइनल राउंड में हुआ चयन

ललित मोहन जोशी ने उत्तराखंड को कई हिट क्षेत्रीय गीत दिए हैं, जो न केवल देश में बल्कि विदेशों में भी लोकप्रिय हैं। अब एक लोकगायक पिता के होनहार बेटे ने खेल के क्षेत्र में बड़ी उपलब्धि हासिल की है। लोग सार्थक को उसकी उपलब्धि पर बधाई दे रहे हैं। आपको बता दें कि उनका चयन 17 और 18 नवंबर को टैलेंट हंट फुटबॉल ट्रायल में हुआ था, जो देहरादून फुटबॉल अकादमी (डीएफए) और इंडिया खेलो फुटबॉल संगठन द्वारा देहरादून के पवेलियन ग्राउंड में आयोजित किया गया था।

जिसमें सार्थक ने भी हिस्सा लिया। इस टैलेंट हंट में कुल 415 खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया। सार्थक ने टैलेंट हंट में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया जिसका इनाम उसे सीरीज में सीट देकर दिया गया। उन्हें अंडर-17 टीम में जगह मिल गई. सार्थक जोशी 16 दिसंबर को गुड़गांव के फास्ट फुटबॉल क्लब में खेलते नजर आएंगे। सार्थक जोशी काशीपुर के मारिया कॉन्वेंट स्कूल में 12वीं कक्षा के छात्र हैं।

सार्थक की सफलता इसलिए खास है क्योंकि आम तौर पर लोग फुटबॉल से ज्यादा क्रिकेट से प्रभावित होते हैं। हालांकि, पिछले कुछ सालों में उत्तराखंड और देश के अन्य हिस्सों में फुटबॉल का क्रेज बढ़ा है। आईपीएल की तरह ही अब भारत में कई बड़ी संस्थाएं बड़े पैमाने पर फुटबॉल लीग आयोजित कर रही हैं, जिसमें विदेशी खिलाड़ी भी हिस्सा लेते हैं। यदि सार्थक जोशी अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो उन पर इंडियन सुपर लीग में भाग लेने वाली टीमों की फ्रेंचाइजियों का ध्यान जाएगा और उन्हें भविष्य में खेलने का मौका भी मिल सकता है।

Leave a comment