मौसम की बेरूखी से परेशान उत्तराखंड के लोग, जानिए 7 दिन के मौसम का हाल कब पड़ेगी मसूरी में बर्फ

bikram

उत्तराखंड में इन दिनों मौसम अपने अलग-अलग रंग दिखा रहा है। हर अलग-अलग क्षेत्र में मौसम भी अलग-अलग होता है। कभी अचानक बारिश हो रही है तो कभी देहरादून और पहाड़ी जिलों में धूप के साथ बादल छा रहे हैं।हाल ही में उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में काफी बारिश और बर्फबारी हुई, इससे राज्य में ठंड जरूर बढ़ गई है. हालांकि, अब मौसम का मिजाज बदल गया है।

चंपावत में बारिश पड़ने से तापमान पहुँचा 5° से नीचे

अधिकांश क्षेत्रों में अब तेज़ धूप खिल रही है जिससे मौसम शुष्क है। मौसम विभाग के मुताबिक अगले तीन-चार दिनों तक बारिश के कोई आसार नहीं हैं. आमतौर पर मौसम शुष्क रहेगा. तापमान में कोई खास बदलाव की उम्मीद नहीं है. बारिश नहीं होने से लोगों को ठंड से थोड़ी राहत मिलेगी।

बारिश के बाद भी देहरादून समेत ज्यादातर इलाकों में तापमान सामान्य से ऊपर बना हुआ है. हालांकि, अब धीरे-धीरे पहाड़ों में भी मौसम ठंडा होता जा रहा है। चोटियों पर बर्फबारी तेज हो गई है. लोग उम्मीद कर रहे हैं कि दिसंबर में जोरदार बारिश हो, जिससे उन्हें कुछ राहत मिल सके। दो दिनों का असर अभी भी चंपावत जिले में है। लगातार दूसरे दिन तापमान में गिरावट देखी गई। बुधवार को चंपावत का न्यूनतम तापमान 2.0 डिग्री सेल्सियस रहा।

मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार अगले कुछ दिनों तक प्रदेश में मौसम शुष्क रहने की संभावना है। पहाड़ी इलाकों में पाला और मैदानी इलाकों में कोहरा परेशानी बढ़ा सकता है। खासकर हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर जिलों में हल्का कोहरा छाने की संभावना है। तापमान में भी हल्की गिरावट हो सकती है। प्रदेश में भले ही मौसम शुष्क हो गया है, लेकिन मैदानी जिलों में कोहरे का असर बढ़ता जा रहा है. कोहरे के कारण वाहनों की रफ्तार धीमी हो गई है और रेल सेवाएं भी बाधित हो रही हैं. कोहरे के कारण कई ट्रेनें मध्य जनवरी तक रद्द कर दी गई हैं।

Leave a comment