उत्तराखंड के 3 जिलों में बारिश का अलर्ट, मैदानी क्षेत्रों में कोहरा पहुंचा सकता है नुकसान

bikram

उत्तराखंड का मौसम अप्रत्याशित है। देहरादून के किसी बिंदु पर तेज़ धूप होगी तो किसी बिंदु पर तेज़ बारिश होगी। ऐसा ही कुछ कल देखने को मिला जहां शहर में सूरज की तेज़ किरणें पड़ रही थीं वहीं दूसरी ओर सहस्त्रधारा रोड पर बारिश हो रही थी। आज भी अनुमान है कि राज्य के तीन जिलों में बारिश हो सकती है।

कल हुई बारिश से लुढ़का दून का पारा

वहीं मैदानी इलाकों में कोहरा छाने से लोगों की दिक्कतें बढ़ेंगी। कल रात हुई बारिश से तापमान में गिरावट आई है। कुछ इलाकों में हल्की बारिश से इन इलाकों में ठंड बढ़ सकती है। मौसम विभाग ने चमोली, बागेश्वर और पिथौरागढ़ जिलों के कुछ इलाकों में बारिश की संभावना जताई है। अन्य जिलों में मौसम साफ रहने की बात कही जा रही है, हालांकि उधम सिंह नगर और हरिद्वार जिले के कुछ इलाकों में सुबह कोहरा छाने से ठंड बढ़ सकती है। आठ दिसंबर तक मौसम में ज्यादा बदलाव की संभावना नहीं है।

प्रदेश भर में मौसम शुष्क रहेगा, जिन स्थानों पर बारिश होगी वहां नमी अवश्य रहेगी। हम आपको बताना चाहते हैं कि पहाड़ी जिलों में बारिश और बर्फबारी के कारण तापमान में रिकॉर्ड गिरावट दर्ज की जाएगी। इसका असर मैदानी इलाकों में भी देखने को मिलेगा। प्रदेश के पहाड़ी इलाकों में इन दिनों जबरदस्त ठंड पड़ रही है। सोमवार देर शाम ही केदारनाथ में तापमान माइनस छह डिग्री तक पहुंच गया है।

धाम में भी जमकर बर्फबारी हो रही है. सोमवार को निचले इलाकों में कुछ देर के लिए हल्की बारिश हुई, जिससे ठंड बढ़ गयी है. सोमवार सुबह केदारनाथ धाम में धूप खिली, लेकिन दोपहर बाद हल्की बर्फबारी शुरू हो गई। धाम में अधिकतम तापमान दो डिग्री और न्यूनतम तापमान माइनस छह डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। खराब मौसम के कारण पुनर्निर्माण कार्य भी प्रभावित हो रहा है।

केदारनाथ में इन दिनों 300 मजदूर पुनर्निर्माण कार्य में लगे हुए हैं। केदारनाथ धाम के अलावा बद्रीनाथ धाम, नीति घाटी और यमुनोत्री में भी भारी बर्फबारी हुई है। जिससे ठंड बढ़ गई है। लोग राहत पाने के लिए अलाव का सहारा लेने को मजबूर हैं।

Leave a comment