चम्पावत के स्वप्निल को रक्षा मन्त्रालय में बड़ा काम, DRDO में बने इंटेलिजेंस ऑफिसर

bikram

प्रदेश के होनहार युवा हर क्षेत्र में अपना नाम रोशन कर रहे हैं। वे बस अपनी काबिलियत से देश-दुनिया में प्रदेश का मान बढ़ाते हैं।आज हम आपको प्रदेश के एक और होनहार युवा की कहानी बता रहे हैं। जिन्होंने भारत सरकार के रक्षा मंत्रालय, DRDO में इंटेलिजेंस ऑफिसर के पद को सफलतापूर्वक पास किया है। हम बात कर रहे हैं स्वप्निल जोशी की, स्वप्निल चंपावत जिले के लोहाघाट क्षेत्र के रहने वाले हैं।

शिक्षकों के परिवार से आकर बने अफसर

उनका परिवार मानढुंगा, दिगालीचौड़ गांव में रहता है। एक छोटे से गांव से आए स्वप्निल ने अब बड़ी उपलब्धियां हासिल कर अपने परिवार का नाम रोशन किया है। वह रक्षा मंत्रालय, डीआरडीओ में इंटेलिजेंस ऑफिसर के तौर पर अपनी सेवाएं देंगे। स्वप्निल एक ऐसे परिवार से आते हैं जिसकी पृष्ठभूमि शिक्षक है। उनके पिता जगदीश चंद्र जोशी जीआईसी चंपावत में शिक्षक हैं। जबकि मां सुमन जोशी डीएवी में शिक्षिका हैं।

स्वप्निल ने अपनी प्राथमिक शिक्षा डीएवी लोहाघाट से प्राप्त की। उनकी इस अभूतपूर्व उपलब्धि से पूरे परिवार में जश्न का माहौल है। अपने गांव के बच्चे को रक्षा मंत्रालय में जिम्मेदारी मिलने की खबर सुनने के बाद। घर पर बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है. स्वप्निल ने कहा कि अगर मन में ठान लिया जाए तो हर लक्ष्य हासिल किया जा सकता है। उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता और शिक्षकों को दिया।

Leave a comment