उत्तराखंड में राउंड टेबल 348 में इस काम को देश का सलाम, हल्द्वानी में ऐसा काम कर किया राज्य का नाम रोशन

bikram

बेजुबान जानवरों की मदद के लिए आगे आए उत्तराखंड के युवा असहाय आवारा पशुओं के कल्याण के लिए टीकाकरण और रेडियम कॉलर वितरित करने के उद्देश्य से स्थानीय एनजीओ शेल्टर हलद्वानी और राउंड टेबल-348 आगे आए। इसके तहत बुधवार को पंचायत घर स्थित आश्रय शेल्टर होम में शिविर का आयोजन किया गया, जिसमें बेसहारा कुत्तों को बीमारी से बचाने के लिए एक इंजेक्शन में 06 टीकों की क्षमता वाला इंजेक्शन लगाया गया।

बेज़ुबानों जानवरो को दिया आश्रय और कराया उपचार

इसके अलावा, उन्होंने सड़क पर अंधेरे के कारण घायल होने वाले आवारा कुत्तों की सुरक्षा के लिए रात में वाहनों से टकराने पर उन्हें बचाने के लिए रेडियम युक्त कॉलर के साथ-साथ कृमि रोधी दवा और खाद्य सामग्री भी प्रदान की। कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य अतिथि जोगेंद्र सिंह रौतेला, अतिव अग्रवाल चेयरमैन, निकिता सुयाल हल्द्वानी फाउंडर ऑफ आश्रय राउंड टेबल 348, संकेत बागला चेयरमैन एरिया 8, रोहन मधोक ने दीप प्रज्ज्वलित कर की।

इस के बाद मुख्य अतिथि एवं विशिष्ट अतिथियों द्वारा आवारा कुत्तों को दवाएँ, टीके, भोजन के पैकेट एवं रेडियम कॉलर वितरित किये गये। इस अवसर पर हेल्पिंग हैंड मुखानी से डॉ.हिमांशु कुमार ने अपनी सेवाएं प्रदान कीं। मेयर रौतेला ने बेसहारा और आवारा कुत्तों के लिए लगाए गए शिविर की सराहना करते हुए कहा कि शहर में इस तरह के और भी आयोजन किए जाएंगे।

इससे आवारा एवं बेसहारा पशुओं को सहारा मिलता है, जो बहुत ही सराहनीय कदम है। विशिष्ट अतिथि संकेत बागला ने कहा कि इस शिविर के माध्यम से समाज को बेहतर समाज के निर्माण का संदेश दिया गया है, जो सराहनीय है। इस मौके पर एनजीओ की अध्यक्ष निकिता सुयाल ने कहा कि हम हमेशा से आवारा जानवरों के लिए काम करते रहे हैं।

वर्तमान में, हमारे आश्रय स्थल में लगभग 70 गायों को निजी तौर पर पाला जा रहा है और यह संख्या और बढ़ने की उम्मीद है। साथ ही आश्रय केयर सेंटर की संस्थापक निकिता सुयाल ने राउंड टेबल के माध्यम से आश्रय का समर्थन करने के लिए हार्दिक आभार व्यक्त किया।

इस मौके पर उत्सव साहनी, कृष्णा गोयल, सौरव शाह, सनी आनंद, अर्पित अग्रवाल, वत्सल गर्ग, यश जैन, शिवाय बंसल, शोभित, प्रतीक, चिराग भी मौजूद रहे। राउंड टेबल 348 के सदस्यों ने भविष्य में एक स्वचालित गौशाला बनाने के लिए आश्रय पशु देखभाल केंद्र के साथ काम करने का संकल्प लिया।

Leave a comment