उत्तराखंड में दून-दिल्ली एक्सप्रेसवे पर बनी सुरंग से शुरू हुई आवाजाही, तय समय से पहले काम खत्म करने का दावा

bikram

कई देरी के बाद आखिरकार दून-दिल्ली एक्सप्रेसवे का काम दिन-ब-दिन तेजी से आगे बढ़ रहा है, ज्यादातर काम पूरा हो चुका है।इस एक्सप्रेसवे में डाटकाली मंदिर के पास एक नई सुरंग बनाई गई है और आशारोड़ी की ओर से 1.5 किमी की नई सड़क यातायात के लिए खोल दी गई है।

6 लेन वाला होगा एक्सप्रेसवे का रास्ता, जिस पर जानवरों के लिए होंगे अंडरपास

इन दिनों सड़क का परीक्षण करने के लिए इस छह लेन सड़क के एक हिस्से में ट्रैफिक चल रहा है, जबकि दूसरे हिस्से में युद्धस्तर पर काम चल रहा है. इन दिनों दून से दिल्ली जाने वाले वाहन नई सड़क और नई सुरंग से गुजर रहे हैं। आशारोड़ी से डाटकाली टनल तक लगभग साढ़े तीन किमी में से इस एक किमी हिस्से में निर्माणाधीन छह लेन सड़क के एक हिस्से (तीन लेन) का काम लगभग पूरा हो चुका है।

डेढ़ किलोमीटर (तीन लेन) पुरानी सड़क के दूसरे हिस्से पर काम शुरू कर दिया गया है। इसलिए इस सड़क पर ट्रैफिक को नई सड़क पर डायवर्ट कर दिया गया है। एनएचएआई के अधिकारियों ने बताया कि पहले लेन का काम तय समय से पहले पूरा कर लिया जाएगा। इस एक्सप्रेसवे में गणेशपुर (यूपी) से आशारोड़ी (उत्तराखंड) के बीच 19.78 किलोमीटर के काम को तीन पैकेजों में बांटा गया है।

इनमें उत्तराखंड में पैकेज-3 को तेजी से पूरा किया जा रहा है। देहरादून से गाजियाबाद तक एक्सप्रेसवे छह लेन का होगा, इसके आगे दिल्ली तक का मार्ग 12 लेन का होगा। एक्सप्रेसवे कुछ वन भूमि को पार करेगा इसलिए वन्यजीवों की आवाजाही के लिए दो हाथी अंडरपास बनाए जा रहे हैं, इसके अलावा तीन पशु अंडरपास भी बनाए जाएंगे। दिल्ली देहरादून एक्सप्रेसवे के निर्माण से देहरादून से दिल्ली की दूरी 235 किमी से घटकर 210 किमी हो जाएगी।

Leave a comment