उत्तराखंड में मौसम विभाग की फिर सात्विक भविष्यवाणी, चार धाम में शुरू बर्फ बारी से शीतलहर की चैपेट में

bikram

उत्तराखंड में एक बार फिर मौसम विभाग की भविष्यवाणी सच साबित हुई।उत्तराखंड में ऊंचे क्षेत्र मौसम बदल गया है। उच्च हिमालयी क्षेत्रों में बारिश और बर्फबारी जारी है, जिससे यहां कड़ाके की ठंड पड़ रही है। हाल ही में बुधवार को केदारनाथ धाम में भी भारी बर्फबारी हुई. जिसके बाद न्यूनतम तापमान माइनस सात तक पहुंच गया। धामों में ठंड बढ़ गई है और श्रद्धालुओं से अनुरोध है कि वे उचित जांच और गर्म कपड़े पैक करके ही यहां आएं।

चार धाम में चलता रहेगा बर्फबारी का दौर

शीतलहर के कारण पूरी केदार घाटी भीषण ठंड की चपेट में है। यात्रियों को अपने साथ गर्म कपड़े लाने की सलाह दी गई है और कहा गया है कि उन्हें यात्रा की योजना बनाने से पहले उचित मौसम रिपोर्ट लेनी होगी। वे यह भी बताते हैं कि आज मौसम कैसा रहेगा। 9 नवंबर को देहरादून, टिहरी, बागेश्वर, पिथौरागढ़, चमोली, रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। ऊंचाई वाले इलाकों में बारिश और बर्फबारी हो सकती है।

अन्य जिलों में मौसम साफ रहने की उम्मीद है. राज्य के 3500 मीटर से अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी की संभावना है। इससे लोगों की परेशानी बढ़ जाएगी क्योंकि मैदानी इलाकों में कोहरे और धुंध के कारण लोगों की दृश्यता कम होगी। 10 नवंबर को भी मौसम का मिजाज ऐसा ही रहेगा। बारिश और बर्फबारी के बाद चारधाम यात्रा वाले जिलों में शीतलहर जारी है, हालांकि लगातार बढ़ती ठंड के बावजूद श्रद्धालुओं के उत्साह में कोई कमी नहीं आई है।

बद्रीनाथ और केदारनाथ धाम में हर दिन बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंच रहे हैं. अगर आप भी इन दिनों किसी पहाड़ की यात्रा पर जा रहे हैं तो मौसम का खास ख्याल रखें। अपने साथ गर्म कपड़े ले जाना न भूलें। खराब मौसम में यात्रा न करें. वाहन चलाते समय सतर्क रहें। अपने पास एक मिनी मेडिकिट रखें।

Leave a comment