उत्तराखंड में बदला मौसम मैदानों में शाम के वक़्त ठिठुरन,यमुनोत्री नीति घाटी ने ओढ़ी बर्फ की चादर

bikram

उत्तराखंड में मौसम विभाग की ओर से की गई भविष्यवाणी एक बार फिर सच साबित हुई है। शुक्रवार को प्रदेश के पर्वतीय इलाकों में अचानक मौसम बदल गया। यमुनोत्री और इसके आसपास के ऊंचे क्षेत्र दोपहर में बर्फ से ढक जाते हैं। इसके अलावा बद्रीनाथ धाम में भी बर्फबारी हुई है। मौसम में बदलाव का असर चमोली की नीती घाटी में भी दिख रहा है। यहां सीजन की पहली बर्फबारी हुई, जिसके बाद पूरी घाटी बर्फ की सफेद चादर से ढक गई।

कल शाम यमुनोत्री में भी शुरू हुई बर्फ़बारी से बढ़ी ठण्ड

इसके बाद नजारा तो बेहद खूबसूरत दिखता है, लेकिन कड़ाके की ठंड ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। नीति घाटी के मलारी गांव में करीब तीस से पैंतीस परिवार रहते हैं, जो इस वक्त कड़ाके की ठंड का सामना कर रहे हैं। जबकि घाटी के अन्य ग्रामीण शीतकालीन प्रवास पर लौट आए हैं। नीती घाटी में भीषण ठंड के बावजूद, कई स्थानीय निवासियों ने सर्दियों के लिए अपने घर नहीं छोड़े हैं। पिछले कई हफ्तों से घाटी में जबरदस्त ठंड पड़ रही है और अब बर्फबारी के बाद घाटी में तापमान और गिर गया है।

शुक्रवार दोपहर को प्रदेश के कई इलाकों में भारी बारिश और उच्च हिमालयी क्षेत्रों में बर्फबारी हुई। बारिश के कारण बद्रीनाथ धाम में भी ठंड बढ़ गई है। लोग इससे बचने के लिए तैयारियां कर रहे हैं और इंतजाम कर रहे हैं। ठंड से राहत पाने के लिए उन्हें अलाव का सहारा लेना पड़ रहा है। यमुनोत्री धाम में दोपहर तीन बजे से शाम चार बजे तक बारिश हुई, जिससे धाम में ठंड बढ़ गई है।

आज चार हजार मीटर से अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी से तापमान में भारी गिरावट आई है. हालांकि, छह नवंबर तक मैदानी इलाकों में मौसम शुष्क रहेगा। आज उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, चमोली और पिथौरागढ़ के ऊंचाई वाले इलाकों में हल्की बारिश के साथ बर्फबारी की संभावना है। मौसम में बदलाव के कारण नजारा काफी अच्छा हो गया है और यह पर्यटकों को भी आकर्षित कर रहा है।

Leave a comment