उत्तराखंड में सूने पड़े बाजारों में लौटी रौनक, नवरात्रों में गिरे नई गाड़ियों के दाम

bikram

श्राद्ध पक्ष के दौरान बाजार को मंदी का सामना करना पड़ा। इस समय किसी को भी खरीदारी करने की अनुमति नहीं है क्योंकि इसे अच्छा समय नहीं माना जाता है।बाजारों में सन्नाटा था, लेकिन अब जैसे ही नवरात्र शुरू हुआ लोग बाजार में भीड़ बढ़ा रहे हैं। अब कारोबार पटरी पर लौटता नजर आ रहा है. रविवार से शुरू हुए नवरात्र के दूसरे दिन बाजारों में चहल-पहल रही। वाहन और इलेक्ट्रॉनिक्स बाजार की बात करें तो नवरात्र से लेकर दिवाली तक स्थिति ठीक रहने की उम्मीद है। ऐसे में बाजार के व्यापारियों ने अपनी सारी तैयारियां पूरी कर ली हैं।

गाड़ियों पर ग्राहकों को मिल रही भारी छूट

ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए नई दरें और छूट दी जा रही है। श्राद्ध पक्ष में ग्राहकों की कमी के कारण इलेक्ट्रॉनिक सामान व वाहनों की बिक्री काफी कम रही. नवरात्र के पहले दिन बड़ी संख्या में लोग इलेक्ट्रॉनिक सामान खरीदने पहुंचे। वॉशिंग मशीन, फ्रिज, ओवन, गीजर, मिक्सर और एलईडी टीवी की जमकर बिक्री हुई।

सिर्फ इलेक्ट्रॉनिक्स ही नहीं बल्कि चार पहिया वाहनों की बिक्री भी नवरात्रि के पहले दिन 80 फीसदी से ज्यादा बढ़ गई है. मारुति सुजुकी शोरूम के एसआरएम मनीष चौहान ने बताया कि पिछले कुछ दिनों में रोजाना चार से पांच कारें ही बिक रही थीं। रविवार को 30 कारों की डिलीवरी हुई है। ग्राहकों ने बड़ी संख्या में बुकिंग भी कराई है. श्राद्ध पक्ष में लोग सामान नहीं खरीदते, इसलिए पिछले 16 दिनों से 20 प्रतिशत बिक्री चल रही थी, दिवाली तक कारोबार में तेजी आने की उम्मीद है।

नवरात्रि शुरू होते ही उत्तराखंड के कई शहरों में बाजार सज गए हैं. देहरादून, हरिद्वार, काशीपुर, रुद्रपुर, रूड़की, हलद्वानी आदि शहरों में बाजारों में ग्राहकों की आवाजाही बढ़ गई है। लोग बाइक और कार खरीद रहे हैं, बुकिंग में भी उछाल आया है। लोग सोना खरीदने के लिए आभूषणों की दुकानों पर भीड़ लगा रहे हैं। इलेक्ट्रॉनिक्स उपकरण के कारोबारियों का कहना है कि त्योहारी सीजन में एलईडी और वॉशिंग मशीन की मांग सबसे ज्यादा रहने की उम्मीद है. नवरात्रि के दौरान लोग खरीदारी करना पसंद करते हैं और इसे शुभ भी माना जाता है।

Leave a comment