उत्तराखंड का वह स्कूल जहां पढ़ चुके हैं देश के प्रधानमंत्री, जानिए दून स्कूल का इतिहास

bikram

देवभूमि के साथ-साथ देहरादून को शिक्षा की भूमि भी कहा जाता है। आपको यकीन नहीं होगा लेकिन एक समय था जब भारत के कई जाने-माने चेहरों ने यहां से शिक्षा प्राप्त की थी। इन चेहरों में पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी, ज्योतिरादित्य सिंधिया, राहुल गांधी, मणिशंकर अय्यर, अमिताव घोष, संदीप खोसला, अभिनव बिंद्रा और अली फज़ल… इन सभी मशहूर हस्तियों का देहरादून से खास नाता है। आज हम बात कर रहे हैं देहरादून के एक ऐसे स्कूल दून स्कूल के बारे में जहां आसानी से एडमिशन लेना आसान नहीं है और यह दून के सबसे महंगे स्कूलों में से एक है।दून स्कूल, यह स्कूल देश ही नहीं बल्कि विदेश में भी मशहूर है। दून स्कूल देश का सबसे महंगा स्कूल है। यह हर माता-पिता का सपना होता है जो अपने बच्चे को दून स्कूल में पढ़ाना चाहता है, लेकिन इससे पहले आपके मन में इसकी फीस और अन्य सुविधाओं को लेकर कई सवाल उठते होंगे।

इस स्कूल में पढ़ चुके हैं देश के प्रधानमंत्री और कई बड़े नाम

दून स्कूल में एडमिशन लेना आसान नहीं है और अगर एडमिशन मिल भी जाए तो फीस भरना बहुत मुश्किल होता है। इस विद्यालय की स्थापना 1935 में हुई थी। तब से इसकी महिमा और प्रसिद्धि बरकरार है। दून स्कूल लड़कों का निजी बोर्डिंग स्कूल है। इस स्कूल का परिसर 70 एकड़ में फैला हुआ है। इस स्कूल में एडमिशन के लिए कठिन टेस्ट और इंटरव्यू देना पड़ता है। इसकी स्थापना ब्रिटिश स्कूल की तर्ज पर कोलकाता के वकील सतीश रंजन दास ने की थी। दून स्कूल के पहले प्रधानाध्यापक आर्थर ई. फ़ुट थे। वह एक अंग्रेज़ शिक्षाशास्त्री थे।

यह प्राइवेट बॉय बोर्डिंग स्कूल है और लड़कियां इस बोर्डिंग स्कूल में नहीं पढ़ती हैं। यहां केवल 2 कक्षाओं, कक्षा 7 और कक्षा 8 में प्रवेश मिलता है। कक्षा 7वीं के लिए प्रवेश जनवरी में और कक्षा 8वीं के लिए अप्रैल में होता है। इस पूरे स्कूल में केवल 500 छात्र पढ़ते हैं। यहां की फीस सुनकर आप भी चौंक जाएंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, द दून स्कूल की फीस 11,95,000 रुपये प्रति वर्ष है।

प्रवेश शुल्क 5,00,000 रुपये है जो एक गैर-वापसी योग्य राशि है, सुरक्षा शुल्क 6,00,000 रुपये है जो वापसी योग्य है और आकस्मिक खर्च 25,000 रुपये प्रति सत्र है। जो छात्र विदेश से आते हैं उन्हें अधिक फीस देनी पड़ती है जो कि सालाना 14,93,500 रुपये है। वहां प्रवेश शुल्क 7,46,875 रुपये है और यह वापसी योग्य नहीं है, सुरक्षा शुल्क 7,46,875 रुपये है और यह वापसी योग्य है और आकस्मिक खर्च 25,000 रुपये प्रति सत्र है। द दून स्कूल से देश की कई मशहूर हस्तियों ने पढ़ाई की है।

Leave a comment