उत्तराखंड में 6500 से अधिक पदों पर होगी होमगार्ड की भर्ती, पुरुष और महिला दोनो को मिलेगा मौका

bikram

इस समय लोग सरकारी नौकरी की तरफ ज्यादा फोकस कर रहे हैं चाहे छोटी हो या बड़ी हर कोई इस सेक्टर में आना चाहता है। कुछ माह पहले कई युवाओं का चयन कांस्टेबल पद के लिए हुआ था। अब एक बार फिर महिला होम गार्ड की पोस्ट आने वाली है। राज्य में जल्द ही भर्ती अधिसूचना जारी की जाएगी। महिला होम गार्ड के 330 पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू होने की उम्मीद है।

अब तक इस भर्ती को लेकर काफी भ्रम की स्थिति थी लेकिन अब यह भ्रम दूर हो गया है कई बार रोस्टर तैयार हो चुका है जो अब साफ हो गया है। शासन स्तर पर निर्णय लिया गया है कि अब भर्ती के लिए कोई लिखित परीक्षा नहीं होगी। इनकी भर्ती फिजिकल टेस्ट और शैक्षणिक योग्यता के आधार पर होगी। इस संबंध में जल्द ही सरकार की ओर से गाइडलाइन जारी की जायेगी।

6500 से अधिक होम गार्ड के पद है खाली

सरकार जल्द ही इस संबंध में गाइडलाइन जारी करेगी। वर्तमान में लगभग 6500 होम गार्ड विभिन्न सरकारी कार्यालयों के साथ-साथ पुलिस कार्यों में भी सहायता कर रहे हैं। इन पदों पर पुरुष और महिला दोनों होम गार्ड शामिल होंगे। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दिसंबर में आयोजित परेड में महिला होम गार्ड की भर्ती की घोषणा की थी। इसी क्रम में सरकार ने उधम सिंह नगर, पिथौरागढ, चंपावत, अल्मोडा, बागेश्वर, चमोली, रुद्रप्रयाग, पौडी, उत्तरकाशी और टेहरी जिलों में महिला होम गार्ड की एक-एक प्लाटून भर्ती करने का आदेश जारी किया है।

अब तक होम गार्ड विभाग में महिला होम गार्ड के 239 पद स्वीकृत हैं, जिनमें से 215 महिला होम गार्ड तैनात हैं। ये महिला होम गार्ड देहरादून, हरिद्वार और नैनीताल जिलों में सेवाएं दे रही हैं। ऐसे में बाकी जिलों में भी भर्ती प्रक्रिया शुरू करने की बात हुई। अब यह साफ हो गया है कि केवल 10वीं पास महिलाएं और पुरुष ही होम गार्ड भर्ती में शामिल हो सकेंगे। जबकि, पहले शैक्षणिक योग्यता पहाड़ी जिलों के लिए पांचवीं पास और मैदानी जिलों के लिए आठवीं पास थी।

इस बार भर्ती में अभ्यर्थियों के लिए 10वीं अनिवार्य है

ऐसे में 10वीं से कम पढ़ाई करने वाले लोग होम गार्ड के लिए आवेदन नहीं कर पाएंगे। वहीं, पहले भर्ती में शामिल होने के लिए अधिकतम आयु सीमा 50 साल थी, जिसे घटाकर 40 साल कर दिया गया है। वहीं, न्यूनतम आयु पहले की तरह 18 साल ही रहेगी। इसके अलावा पुरुष अभ्यर्थियों के लिए लंबाई में छूट का भी प्रावधान किया गया है। छूट और योग्यता की बात करें तो इसका मानक सिविल पुलिस के बराबर कर दिया गया है। इसी क्रम में सामान्य और ओबीसी अभ्यर्थियों के लिए लंबाई का मानक 167.7 सेमी से घटाकर 165 सेमी कर दिया गया है।

इसी तरह लंबाई का मानक एससी-एसटी अभ्यर्थियों के लिए 162 की जगह 157.5 सेमी और पर्वतीय क्षेत्र के अभ्यर्थियों के लिए 162.7 की जगह 160 सेमी कर दिया गया है. वर्तमान में, होम गार्ड विभाग में 215 महिला होम गार्ड तैनात हैं, जो देहरादून, हरिद्वार और नैनीताल जिलों में सेवाएँ दे रही हैं। इस साल राज्य के अन्य 10 जिलों में भी 330 पदों पर महिला होम गार्ड की भर्ती होने जा रही है।

Leave a comment